पृष्ठ

बुधवार, 12 जनवरी 2011

उत्तर प्रदेश के भदोही में करोंडो की मूर्ति चोरी

भदोही/उत्तरप्रदेश: देश की विरासत और प्राचीन धरोहरों पर अब संकट गहराने लगा है ! प्राचीन मंदिर जिनमे विराजमान  अति दुर्लभ अष्टधातु की मूर्तियों पर तस्करों की नजरे गड गयी है ! करोड़ो की इन दुर्लभ अष्टधातु की मुर्तिया तमाम सुरक्षा के बाद भी मंदिरों से चोरी होती जा रही है  ! मामला भदोही के गोपीगंज का है जहा के प्राचीन राधा कृष्ण मंदिर से दो दुर्लभ अष्टधातु की मूर्ति और दर्जन भर ताम्बे की मुर्तियो  पर मंगलवार की रात चोरो ने हाथ साफ किया है ! मौके पर पहुची पुलिस ने जाँच शुरू कर दी है और चोरो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस फिंगर प्रिट एक्सपर्ट और डाग स्क्वायर की भी मदद ले रही है ! चोरी हुई मुर्तिया हजारो साल पुरानी है और इन मूर्तियों की कीमत कई करोड़ रूपये आकी जा रही है !
     
दुर्लभ अष्टधातु की मुर्तिया हमारे देश के पुराने मंदिरों से चोरी कर अन्तररास्ट्रीय बजारों में करोड़ो में बेचीं जाती है ! तस्कर इन मूर्तियों को यहाँ से काफी कम दामो में खरीदते है और करोड़ो में सात समुन्द्र पार बेचते है ! इनका यह कारोबार चोरो व तस्करों  के माँध्यम से चलता है ! भदोही में हुई यह चोरी का कोई पहला मामला नहीं है इसके पहले भी कई बार दुर्लभ अष्टधातु की मुर्तिया चोरी हो चुकी है ! और आज फिर चोरो ने दुर्लभ मूर्तियों पर हाथ साफ किया है ! गोपीगंज के सोनिया तालाब का यह राधा कृष्ण का बहुत ही पुराना मंदिर है और यह लोगो की आस्था का केंद्र रहा है ! चोरो ने मंदिर का मुख्य दरवाजा तोड़कर चोरी की इस बड़ी घटना को अंजाम दिया है ! चोरो ने इस मंदिर से अष्टधातु की दो मुर्तिया , हनुमान जी की मूर्ति से चांदी की आँखे और मंदिर में विराजमान दर्जन भर ताम्बे की मूर्तियों पर हाथ साफ किया है ! अति प्राचीन होने के कारण इन मूर्तियों की कीमत करोड़ो में बताई जा रही है ! स्थानीय लोगो की सुचना पर पहुची पुलिस जाँच में जुट गयी है ! पुलिस ने चोरो की गिरफ्तारी के लिए डाग स्क्वायर और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की भी मदद ली है लेकिन अभी तक पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं लगी है ! अपर   पुलिस अधीक्षक रुचिता चौधरी का कहना है की यह चोरी आम चोरो ने नहीं की है इसके पीछे कोई बड़ा गिरोह सक्रिय है ! वही पुलिस जल्द ही खुलासे का दावा कर रही है !
    चोरो ने इस चोरी को अंजाम देर रात में दिया है रात में कोहरे का सहारा लेकर इस चोरी  को किया गया है ! वही इस मामले के बाद स्थानीय लोगो में आक्रोश व्यापत है पुलिस के लापरवाही भरे रवैये  पर कई बार स्थानीय लोगो और पुलिस में नोक झोक हुई ! स्थानीय लोगो का कहना है की इस इलाके में चोरी की यह पहली घटना नहीं है इसके पहले भी कई बार चोरिया हुई है जिसकी सुचना पुलिस को दी गयी लेकिन पुलिस ने चोरियों की घटनाओ में लापरवाही दिखाई अगर पुलिस सतर्क होती तो आज यह इतनी बड़ी चोरी नहीं होती ! वही स्थानीय व्यापारियों और राजनैतिक दल पुलिस के ढुलमुल रवैये  को लेकर सड़क पर उतरने को तैयार है, स्थानीय निवासी
धर्मेन्द्र कुमार व मंदिर समिति के सदस्य  कृष्ण  कुमार  का कहना है की अगर जल्द ही मुर्तिया मंदिर में नहीं आई तो पूरा भदोही बंद करा दिया जायेगा और सभी स्थानीय आमरण धरने पर बैठ जायेगे !
  
दुर्लभ अष्टधातु की मूर्तियों की तस्करी के लिए भदोही साफ्ट टार्गेट के रूप में उभर रहा है इसके पहले भी भदोही से कई  दुर्लभ अष्टधातु की मुर्तिया बरामद हो चुकी है वह मुर्तिया वाराणसी ,प्रयाग ,अयोध्या से चोरी हुई थी ! वाराणसी और इलाहबाद के मध्य होने के कारण भदोही हमेशा से ही मूर्ति तस्करों की निगाह में है ! लेकिन इस बार यही के एक प्राचीन मंदिर को शिकार बनाया गया ! हलाकि पुलिस मामले में जल्द ही खुलासे की बात कर रही है और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट  भी बुलाये गए पर देखने से यही लगा की फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट सिर्फ खाना पूर्ति कर रहे थे क्योकि फिंगर प्रिंट लेते हुए फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट अपने हाथो में ग्लप्स तह नहीं पहने थे तो अंदाजा लगाया जा सकता है की जाँच में जुटी पुलिस किस तरह से जाँच कर रही है ! फ़िलहाल इस मामले को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चाये व्याप्त हो चुकी है.
 

2 टिप्‍पणियां:

डॉ० डंडा लखनवी ने कहा…

जानदार और शानदार खबरों की प्रस्तुति हेतु आभार।
कृपया पर्यावरण संबंधी इस दोहे का रसास्वादन कीजिए।
==============================
शहरीपन ज्यों-ज्यों बढ़ा, हुआ वनों का अंत।
गमलों में बैठा मिला, सिकुड़ा हुआ बसंत॥
==============================
सद्भावी-डॉ० डंडा लखनवी

क्रिएटिव मंच-Creative Manch ने कहा…

दुर्लभ मूर्तियों की चोरी की जांच कहाँ तक पहुंचेगी..ईश्वर ही जानता है.

'मिलिए रेखाओं के अप्रतिम जादूगर से '